×
वीडियो खेती की बात स्वास्थ्य बिज़नेस शिक्षा पॉजिटिव ब्रेकिंग खेल अनसुनी गाथा एडिटोरियल
EN

स्वास्थ्य

Mental health को दे सकते हैं प्राथमिकता, बस फॉलो करने होंगे ये स्मॉल स्टेप्स!

by Rishita Diwan

Read Time: 2 minute



पिछले कुछ सालों में मेंटल हेल्थ को लेकर ज्यादा बहस छिड़ी है। या फिर ये भी कह सकते हैं कि हमने अभी जिस तरह की लाइफस्टाइल को अडॉप्ट किया है उसके लिए मेंटल हेल्थ का खास ख्याल रखना बेहद जरूरी हो गया है। क्योंकि प्रतिस्पर्धात्मक माहौल, भागदौड़ भरी जिंदगी और स्ट्रेस के चलते मेंटल हेल्थ पर असर हो रहा है। कई बार ऐसा होता है कि हमें पता होने पर भी हम मेंटल हेल्थ को लेकर कुछ नहीं कर पाते हैं। ऐसे में नीचे दिए गए कुछ स्टेप्स आपको फायदा पहुंचा सकते हैं।

खुद का रखें ख्याल

काम और घर के बीच बैलेंस रखना बेहद जरूरी है। वर्क-लाइफ बैलेंस बनाकर चलना बेहद जरूरी है। अपने लिमिट्स के तय करके रखें और खुद को रिचार्ज करने का पूरा समय दें। इस दौरान परिवार के साथ समय भी बिताएं, अपने पालतू जानवरों जैसे डॉग या बिल्ली के साथ खेलें। किताब पढ़ें या कहीं घूमने जाएं। हो सकता है ऐसा करने के लिए आपको कुछ दिनों के लिए अपने काम से छुट्‌टी लेनी पड़ जाए तो भी इसमें कोई बुराई नहीं होगी। दिमाग को रिफ्रेश करने के लिए ये बेहद जरूरी है।

डिस्कनेक्टेड होना भी जरूरी

माना हमारे गैजेट्स हमारी जिंदगी का अहम हिस्सा बन चुके हैं। लेकिन इनसे ब्रेक लेना भी जरूरी है। नहीं तो ऑलवेज़ ऑन कल्चर की वजह से कई बार ऐसा महसूस हो सकता है कि हम लगातार अपने प्रोफेशनल लक्ष्य को हासिल करने के पीछे ही दौड़ रहे हैं। वहीं कुछ हासिल भी नहीं कर पा रहे हैं। हर समय अगर फोन पर काम संबंधित रिमाइंडर्स ही मिल रहे हैं तो रिलैक्स करना मुश्किल हो जाएगा। ये बहुत जरूरी है अपने कंप्यूटर और फोन के नोटिफिकेशंस को कुछ समय के पूरी तरह से बंद कर दें।

भागें नहीं लड़ें

मेंटल हेल्थ की परेशानी एक असहज होने वाली स्थिति की तरह देखा जाता है। हम इस पर बात करने से डरते हैं। इससे निपटने के लिए अपने मैनेजर के साथ पूरी ईमानदारी के साथ खुलकर बातचीत करें। अपने वर्क लोड और मेंटल हेल्थ कंडीशन के बारे में अपने बात करेंगे तभी इसका हल निकलेगा। अपने साथ काम करने वाले या आस-पास के लोगों के साथ मजबूत रिश्ते बनाएं। इससे आपको ईमानदारी के साथ अपनी दिक्कत उनके सामने रखने में हेल्प होगी।

सपोर्ट नेटवर्क तैयार करना हो सकता है फायदेमंद

एक ऐसे साथी की खोज करें जिस पर आप पूरा भरोसा कर सकते हैं। अपनी भावनाओं को उससे खुलकर बताएं। अगर आपके पास ऐसा कोई मौजूद नहीं है तो अपने दायरे को बढ़ाएं। कोई कमेटी या ग्रुप जॉइन कर सकते हैं, सोशल इवेंट्स में भाग ले सकते हैं। ये जरूर आपको अच्छा फील करवाएगी।

Also Read: Some dos and don’ts that you must follow to take care of your mental health

आपको यह भी पसंद आ सकता है


Comments


No Comments to show, be the first one to comment!


Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *