×
Videos Agriculture Health Business Education Positive Breaking Sports Ansuni Gatha Advertise with Us Catch The Rainnew More
HOME >> HEALTH

HEALTH

भारतीय वैज्ञानिक ने रचा इतिहास, जानें उनके शोध से कैसे मिलेगा ब्रेस्ट कैंसर की पहचान में फायदा!

by Rishita Diwan

Date & Time: Nov 01, 2022 12:00 PM

Read Time: 2 minute



कैंसर एक भयावह बीमारी है जिसका असर मरीज के दिल-दिमाग को बीमार करने के साथ ही घर वालों की भी चिंता को बढ़ा देता है। लेकिन अब कैंसर, खासकर ब्रेस्ट कैंसर से होने वाली मृत्यु में कमी आने की उम्मीद है। ऑपरेशन के दौरान कैंसर सेल्स (कोशिकाओं) को आसानी से पहचाना जा सकेगा।

दरअसल, लंदन के इम्पीरियल कॉलेज के वैज्ञानिकों ने एंडो माइक्रोस्कोप डेवलप किया है। इस नए डिवाइस के डेवलपमेंट के पीछे एक भारतीय का हाथ है। बता दें भारत के लिए यह खुशी की बात है कि इस डिवाइस को विकसित करने वाली डॉक्टर भारत से हैं और उनका नाम है खुशी व्यास। यह सिर्फ एक मिलीमीटर का है और इसे इस तरह से डिजाइन किया गया है कि ऑपरेशन के दौरान इसे शरीर के भीतर डाला जा सकता है।

फॉलोअप ऑपरेशन से मरीजों को राहत

यह डिवाइस शरीर के अंदर से कैंसर टिश्यू की तस्वीरें निकालता है, जिसे देखकर कैंसर के टिश्यू को हटाना ज्यादा आसान होगा। यह एक मिलीमीटर के सौवें हिस्से जितने छोटे कैंसर सेल को भी पहचानने की काबिलियत रखता है। इसे विकसित करने वाली टीम का मानना है कि इससे कैंसर के फॉलोअप ऑपरेशन से बहुत हद तक छुटकारा मिलेगा। अब तक ज्यादातर मामलों में कैंसर सेल निकालने के लिए कई बार ऑपरेशन के प्रोसेस से गुजरना पड़ता था, क्योंकि एक 
बार में सारे कैंसर सेल्स डिटेक्ट ही नहीं हो पाते।

इस डिवाइस का इस्तेमाल ब्रेस्ट कंजर्विंग सर्जरी में भी होगा। यह सर्जरी कैंसर के सेल निकालने के बाद ब्रेस्ट की रीस्ट्रकचरिंग के लिए होती है। अभी ब्रेस्ट कैंसर पीड़ित 20% महिलाएं इस सर्जरी से गुजरती हैं। यह डिवाइस ट्यूमर्स के पास के टिश्यू की सही स्थिति बहुत जल्दी और सटीकता से डिटेक्ट करने में सक्षम है।

1 सेकंड में 120 तस्वीरें निकालेगा यह डिवाइस

एंडो माइक्रोस्कोप एक सेकंड में 120 तस्वीरें खींच सकता है। जिसकी मदद से डॉक्टर पता लगा लेते हैं कि यह सेल कैंसर ग्रसित है कि नहीं। डॉक्टर खुशी व्यास का कहना है कि, कअब हम इसे क्लिनिकल ट्रायल में भेजना है हमारी कोशिश है कि अगले 5 साल में यह ब्रेस्ट कैंसर के ऑपरेशन में हर किसी के लिए उपलब्ध हो जाए।

ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण

ब्रेस्ट में गांठ या मस्से ब्रेस्ट कैंसर के संकेत हैं। महिलाएं ध्यान रखें।

ब्रेस्ट की त्वचा में बदलाव भी कैंसर का संकेत

पूरे ब्रेस्ट या किसी हिस्से में सूजन

ब्रेस्ट में दर्द शुरू होना।

निप्पल का पीछे हटना या उलटा होना भी ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण

अंडरआर्म में गांठ की ब्रेस्ट से संबंधित होने की आशंका बहुत ज़्यादा

ब्रेस्ट का कोई भी हिस्सा अगर दूसरे से अलग लग रहा हो तो कैंसर की आशंका

Also Read: A new strategy delivering immunotherapy medicines revealed to treat cancer

You May Also Like


Comments


No Comments to show, be the first one to comment!


Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *